इलाहाबाद, फैजाबाद, मुगलसराय के बाद अब उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ताजनगरी के नाम से प्रसिद्ध आगरा जिले का नाम बदलने की तैयारी में जुट गई है. बाकायदा इसके लिए इतिहास विभाग ने साक्ष्य भी मांगे जा रहे हैं. जानकारों के मुताबिक आगरा का नाम बदलकर अग्रवन किए जाने की पूरी संभावना है.

आगरा उत्तर प्रदेश का प्रमुख पर्यटन वाला शहर है. प्रतिवर्ष यहां पर लाखों की संख्या में विदेशी सैलानी आकर ताजमहल का दीदार करते हैं. ताजमहल की वजह से आगरा दुनियाभर में जाना जाता है. इसके अलावा यहां का जूता उद्योग भी विश्व प्रसिद्ध है.

आगरा का नाम बदलकर अग्रवन रखने के संबंध में शासन ने डॉक्टर भीम राव अंबेडकर विश्वविद्यालय से पूछा है कि क्यों न आगरा का नाम बदलकर अग्रवन कर दिया जाए. इस संबंध में इतिहास विभाग से साक्ष्य भी मांगे गए हैं. अब इतिहास विभाग मंथन में जुटा हुआ है. अगर सबकुछ सही रहा तो जल्द ही उत्तर प्रदेश का प्रमुख पर्यटन शहर आगरा अग्रवन के नाम से जाना जाएगा.

ताजनगरी के प्राचीन इतिहास को खोजने की कवायद शुरू हो गई है. इसमें आगरा का नाम कब, किसने और कैसे अग्रवन के रूप में प्रयोग किया? साक्ष्य जुटाए जाने की प्रक्रिया और शोध कार्य किए जा रहे हैं.

विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग के प्रमुख प्रो. सुगम आनंद के अनुसार, शासन के पत्र के आधार पर कार्य शुरू कर दिया गया है. प्रमाण खोज जा रहे हैं कि कोई तथ्य या साक्ष्य उपलब्ध हो जाए. शोध किया जा रहा है कि इस संबंध में इतिहास को समझा जा सके. यदि कहीं पर अग्रवन का जिक्र भी है तो उसे भी स्थापित किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here