ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गयी इस पारी को अपने करियर का टर्निंग पॉइंट मानते हैं वीवीएस लक्ष्मण

0

वीवीएस लक्ष्मण भारतीय टीम के एक ऐसे बल्लेबाज रहे जिन्होंने टीम के लिए एक संकटमोचक की भूमिका निभाई. साल 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता में खेला गया टेस्ट मैच एक यादगार मैचों में से एक है. भारतीय टीम पहली पारी में 171 रनों पर ऑल आउट होने के बाद जब फॉलोऑन खेलने उतरी तो वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ के बीच 376 रनों की एक मजबूत साझेदारी ने मैच का रुख बदल दिया था.

उस मैच में द्रविड़ ने 180 रन बनाए थे और लक्ष्मण ने अपने करियर की एक शानदार 281 रनों की पारी खेली थी. अब वीवीएस लक्ष्मण ने अपनी इस पारी को करियर का टर्निंग पॉइंट बताया है. उन्होंने अपनी ऑटोबायोग्राफी ‘281 एंड बियॉन्ड’ के लॉन्च के मौके पर कहा ”रिटायरमेंट के बाद से मैं अपनी कहानी दुनिया के साथ साझा करना चाहता था. मुझे लगता है कि ये इस देश के एक खिलाड़ी की बेहद खास मगर बिल्कुल साधारण कहानी है. 281 रनों की वह पारी मेरे करियर की टर्निंग पॉइंट थी.”

अपनी किताब को लेकर उन्होंने कहा ”इस किताब में मैंने मैच खेलने के लिए प्रेरित और मैच के लिए सही समय पर फिट कैसे हुआ के बारे में बताया है.” इसके साथ ही उन्होंने इस बुक में अपने क्रिकेट करियर के तमाम अनुभवों के बारे में साझा किया है.

लक्ष्मण ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत 1996 से की थी. उन्होंने अपना पहला टेस्ट 20 नवंबर 1996 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ सरदार पटेल स्टेडियम में खेला था. इसके लगभग दो साल बाद 1998 में वनडे में डेब्यू किया. उन्होंने भारत के लिए कुल 134 टेस्ट और 86 वनडे मैच खेले. टेस्ट में उन्होंने 45.5 की औसत से 8781 रन बनाए और वनडे में 30.76 की औसत से 2338 रन बनाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here