Image credit- social media

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देशभर में बहस जारी है. कुछ लोग इस कानून के समर्थन में तो कुछ इसके विरोध में खड़े हैं. सरकार कह रही है कि लोग बिना जाने समझे इस कानून का विरोध कर रहे हैं जबकि ये कानून किसी की नागरिकता लेने वाला नहीं बल्कि शरणार्थियों को नागरिकता देने वाला है.

श्रीलंका के खिलाफ पहले टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली से जब कानून को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने बहुत ही सूझबूझ के साथ इससे किनारा कर लिया. उन्होंने कहा कि मुझे इस कानून के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है. बिना ठोस जानकारी के इस मसले पर मैं गैर जिम्मेदाराना नहीं होना चाहता. मैं ऐसा कुछ नहीं कहना चाहता जिस पर दोनों पक्षों की आम राय न हो.

Image credit- ANI

उन्होंने साफ तौर पर कहा कि जिस विषय पर ज्यादा जानकारी न हो उसपर टिप्पणी करके खुद को विवादों में नहीं घसीटना चाहता. जिसकी पूरी जानकारी न हो उसके बारे में बोलना मेरे लिहाज से जिम्मेदारी भरा नहीं होगा.

बता दें कि देश के तमाम विद्वान और समाजसेवी इस कानून के विरोध में जगह जगह प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली के शाहीनबाग में बीते 20 दिनों से महिलाएं इतनी सर्दी में लगातार इस कानून के विरोध में प्रदर्शन कर रही हैं. देश की अलग अलग यूनिवर्सिटी में भी प्रदर्शनों का दौर जारी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here