कानपुर के बिकरू गांव की घटना के मुख्य आरोपी विकास दुबे को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया. विकास को कल बेहद नाटकीय ढंग से उज्जैन के महाकाल मंदिर से मध्यप्रदेश पुलिस ने गिरफ्तार किया था. विकास दुबे की गिरफ्तारी से लेकर एनकाउंटर पर अब सवाल उठ रहे हैं.

बताया जा रहा है कि विकास की गिरफ्तारी के बाद यूपी एसटीएफ उसे मध्यप्रदेश से कानपुर ला रही थी. पुलिस के अनुसार कानपुर के बेहद करीब विकास को ला रही गाड़ी अचानक पलट गई. इसके बाद विकास दुबे ने पुलिस से हथियार छीनकर भागने की कोशिश की. इसके बाद पुलिस ने मुठभेड़ में उसे मार गिराया.

जानकारी के मुताबिक घटना सचेंडी थाने से तकरीबन एक किलोमीटर आगे की है. विकास दुबे की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद डिप्टी सीएमओ की मौजूदगी में उसका पोस्टमार्टम शुरू कर दिया गया है. पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी कराई जा रही है.

बता दें कि एक सप्ताह पहले बिकरू गांव में विकास को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हुई फायरिंग में 8 पुलिसकर्मियों की शहादत हो गई थी. इसके बाद से विकास फरार चल रहा था. कल उसे मध्यप्रदेश से गिरफ्तार किया गया. आज सुबह उसका एनकाउंटर हो गया. कहा जा रहा था कि विकास को खाकी और खादी का समर्थन हासिल था. अभी सवाल कई हैं जिसके जवाब मिलने बाकी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here