कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच तबलीगी जमात पर प्रतिबंध लगाने की मांग तेज हो गई है. उत्तर प्रदेश राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर यूपी में जमात पर बैन लगाने की मांग की है.

अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य परविंदर सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी को पत्र लिखकर कहा है कि जमातियों ने दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से आकर पूरे प्रदेश में कोरोना जैसी महामारी को फैलाने का काम किया है.

उन्होंने कहा कि जमात से जुड़े लोग कभी मदरसों में, कभी मस्जिदों में, कभी मुस्लिम इलाकों में छुपकर दूसरों की जान भी मुसीबत में डाल रहे हैं. इनकी वजह से प्रदेश में कोरोना के मामले इतने बढ़ गए हैं.

परविंदर सिंह ने कहा कि आयोग के सदस्यों ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इस बात के लिए अपनी सहमति दी है. उन्होंने बताया कि आयोग के तमाम सदस्यों से विचार विमर्श के बाद हम इस नतीजे पर पहुंचे हैं.

यूपी अल्पसंख्यक आयोग इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर जमात पर बैन लगाने की मांग कर चुका है. बता दें कि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुई जांच के बाद कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोत्तरी दर्ज की गई. देश के तमाम राज्यों में जमात से जुड़े लोगों में कोरोना के मामले पाए गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here