उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मोहर्रम, गणेश चतुर्थी और श्रीकृष्ण जन्माष्टमी को लेकर आज गाइडलाइन जारी कर दी. हिंदू और मुस्लिम दोनों ही समुदायों को इस गाइडलाइन का बेसब्री से इंतेजार था. इसमें ये साफ कहा गया है कि किसी भी हाल में भीड़ इकठ्ठा नहीं होगी.

यूपी सरकार की ओर से जारी दिशानिर्देशों के अनुसार किसी भी तरह के जुलूस और शोभा यात्रा निकालने की अनुमति नहीं होगी. गाइडलाइन में कहा गया है कि गणेश पूजा के दौरान पंडाल में कोई मूर्ति स्थापित नहीं की जाएगी, कोई शोभा यात्रा नहीं निकाली जाएगी, इसी तरह मोहर्रम के दौरान भी कोई जुलूस या ताजिया नहीं निकाला जाएगा.

सरकार ने जिला प्रशासन से कहा है कि वो सभी धर्मों के धर्मगुरूओं से संवाद स्थापित कर कोविड-19 के दिशा निर्देशों का अनुपालन कराने का काम करें.

कार्यक्रमों की पीस कमेटी की मीटिंग की जाए और सभी का सहयोग लिया जाए. संवेदनशील और कंटोनमेंट जोन में पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की जाए.

बता दें कि इस साल कोरोना वायरस की वजह से 25 मार्च से लगे लॉकडाउन के बाद से लेकर अब तक भीड़ एकत्र करने पर पाबंदी है. 25 मार्च के बाद से जितने भी त्यौहार पड़े हैं, सभी को बेहद सादगी के साथ घरों में मनाया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here