कानपुर के बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे और उसके कई साथियों के एनकाउंटर के बाद अब बचे आरोपी सरेंडर कर रहे हैं. पुलिस लगातार छापेमारी भी कर रही है. शनिवार को विकास के करीबी उमाकांत ने कानपुर के चौबेपुर थाने में सरेंडर कर दिया.

उमाकांत के सरेंडर करने का अंदाज भी बिल्कुल अलग ही था. उमाकांत अपनी पत्नी और बेटी के साथ थाने पहुंचा, इस दौरान उसने अपने गले में एक तख्ती भी लटका रखी थी.

उस तख्ती में लिखा था कि मेरा नाम उमाकांत शुक्ला निवासी बिकरू थाना चौबेपुर है. मैं बिकरू कांड में विकास दुबे के साथ शामिल था. मुझे पकड़ने के लिए रोज पुलिस दबिश दे रही है जिससे मैं बहुत डरा हुआ हूं. हम लोगों द्वारा जो घटना की गई थी उसकी मुझे आत्मग्लानि है, मैं खुद पुलिस के सामने हाजिर हो रहा हूं, मेरी जान की रक्षा की जाए, मुझपर रहम किया जाए.

बता दें कि बिकरू गांव में 8 पुलिकर्मियों की शहादत के बाद जिस तरह पुलिस ने एक के बाद एक एनकाउंटर किए उससे विकास के साथियों में डर बैठ गया. अब उन्हें यही डर लगा रहता है कि कहीं मेरा भी हाल विकास दुबे जैसा न हो जाए. शायद यही वजह थी कि उमाकांत अपनी पत्नी और बेटी के साथ सरेंडर करने पहुंचा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here