बिहार में सीटों के बटवारों के बाद आया राजनीतिक भूचाल, ये दिग्गज शामिल हुआ कांग्रेस में

0

 

साल 1999 में कांग्रेस पार्टी से बगावत कर एनसीपी प्रमुख शरद के साथ पार्टी का घठन करने वाले तारिक अनवर की घर वापसी हो गयी है. कांग्रेस पार्टी में शामिल होने से पहले वह राहुल गाँधी से मिले. इसके बाद आज सुबह शनिवार को राहुल गाँधी ने पार्टी में शामिल कर स्वागत किया.

बता दे कि तारिक अनवर बिहार के कटिहार से पांच बार सांसद रह चुके है. एनसीपी को खड़ा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले तारिक अनवर ने कांग्रेस को उस समय अलविदा कह दिया था, जब सोनिया गाँधी के विदेशी मूल का मुद्दा उठा था.

शरद पवार के राफेल पर दिए गए बयान से तारिक अनवर आहत थे, इसके बाद ही उन्होंने पार्टी को छोड़ने का मन बना लिया था. शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पक्ष में बोलते हुए उनको ईमानदार कहा था.  तारिक अनवर उनके इस बयान से खफा थे. इसी बयान को उन्होंने पार्टी छोड़ने का आधार भी बना लिया था.

बिहार में कांग्रेस के पास कोई चेहरा नहीं है, इससे ये भी आसार है कि पार्टी में आने का कारण उनका बिहार से चुनाव लड़ने का मन भी हो सकता है. इसी कारण वह कांग्रेस से जुड़कर बिहार की राजनीति में अपने आपको चेहरा स्थापित करने में लगे हुए है.

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे खूब शेयर, कमेंट और लाइक करें.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here