महाराष्ट्र में सरकार के गठन को लेकर गुरुवार सुबह कांग्रेस कार्य समिति की बैठक सोनिया गांधी के आवास पर हुई. बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता ने बताया कि कांग्रेस कार्य समिति में इस बात को लेकर चर्चा की गई कि महाराष्ट्र को लेकर क्या कदम उठाने की जरुरत है.

वहीं केसी वेणुगोपाल राय ने कहा कि हमने कांग्रेस कार्य समिति के सदस्यों को महाराष्ट्र की नवीनतम राजनीतिक स्थिति से अवगत करा दिया है. आज कांग्रेस-एनसीपी की बैठक फिर होगी, कहा कि हो सकता है कि महाराष्ट्र की राजनीतिक परिस्थितियों पर कल फैसला आ जाए.

हालांकि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने पर कांग्रेस कार्य समिति ने हरी झंडी दे दी है. शरद पवार औऱ कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के बीच लगातार बैठकों का दौर चला, जिसके बाद एनसीपी के सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि कांग्रेस, शिवसेना के साथ गठबंधन के लिए मान गई है.

हालांकि पार्टियों के बीच अभी मंत्रालय, स्पीकर पद और अन्य बातों पर मुहर लगनी बाकी है. पिछले 24 अक्टूबर को राज्य में हुए विधानसभा चुनाव के परिणामों के बाद ये पहली बार मौका है कि कांग्रेस और राकांपा ने खुलकर घोषणा की है. इस बीच राकांपा सूत्रों ने दावा किया कि शिवसेना के साथ ढाई-ढाई साल के मुख्यमंत्री पद पर सहमति बन गई है. पहले ढाई साल में शिवसेना का मुख्यमंत्री रहेगा. इसके ढाई साल बाद एनसीपी का मुख्यमंत्री होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here