सामाजिक विषमता का आलम यह है कि किसान, दलित और गरीब सब परेशान हैं. देश का मुलमा’न डरा हुआ है. इस वक्त उसके साथ खड़े होने की जरूरत है. देश में सामाजिक इन्साफ की लड़ाई कभी ख़’त्म नहीं होगी. ये बात लोकतांत्रिक जनता दल के मुखिया शरद यादव ने शनिवार को गोमतीनगर स्थित उर्दू अकादमी में सामाजिक चेतना फाउंडेशन एंव लोक चेतना शिक्षण संस्थान द्वारा आयोजित बीपी मंडल जन्म शताब्दी के अवसर पर कही.

शरद यादव ने लोगों में मताधिकार के मूल्य की समझ न होने की बात भी कही. उन्होंने कहा कि हमारे लोग इसे चंद पैसों में बेच देते हैं.

सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘जिसे घंटा बजाना था, प्रवचन करना था, वह राज कर रहे हैं और हम यहाँ प्रवचन कर रहे हैं. यह सामाजिक न्याय की हार नहीं है तो और क्या है?.’

भाजपा और आरएसएस पर भी शरद यादव ने जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि आज गाय के नाम पर बेगुनाह इंसानों को मा’रा जा रहा है. वहीं समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान का बचाव करते हुए कहा केंद्र सरकार उन्हें परेशान कर रही है.

इस दौरान शरद यादव मीडिया को भी आड़े हाथों ले गए. बोले कभी शरद यादव चलता था तो तूफान आता था और कल 100 से ज्यादा मीडिया चैनल वाले आए थे कॉन्फ्रेंस में. लेकिन कहीं जिक्र ही नहीं किया.

____अमित कुमार मंडल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here