राफेल के बाद ये घोटाला आया सामने, मोदी सरकार ने की किसानों के साथ दलाली

0

राफेल के मुद्दे पर विपक्ष के साथ साथ कोर्ट में घिरी केंद्र सरकार की मुश्किले कम होती नजर आ रही है, अभी हाल में ही सुप्रीम कोर्ट ने राफेल के मुद्दे को लेकर 10 दिन में वैध जानकारियाँ दिलाने के लिए कहा है, तब से मोदी सरकार में भूचाल आया हुआ है.

कोर्ट में सरकारी वकील ने कहा- हम राफेल से जुड़ी हुई जानकारियों को सामने नहीं ला सकते, तो सुप्रीम कोर्ट ने दो टूक कहा – आप हमें 10 दिन में जानकारियाँ उपलब्ध कराएं. अब कृषि क्षेत्र में एक घोटाला सामने आ रहा है, जिसके बाद से तो मोदी सरकार की धज्जियां उड़ सकती है.

प्रख्यात पत्रकार व किसानों के प्रति मुखर रहने वाले पी साईनाथ ने अहमदाबाद में बोलते हुए कहा- एनडीए सरकार किसानों के प्रति गलत रुख अपनाए हुए है, जिसका परिणाम उसको आगे आने वाले चुनावों में देखा जा सकता है.

सरकार की नीतियां किसानों के प्रति गलत रुख अपनाए हुए है, प्रधानमन्त्री फसल बीमा योजना को उन्होंने राफेल से बड़ा घोटाला बताते हुए कहा- महाराष्ट्र में २ करोड़ 80 लाख लोगों ने सोयाबीन की खेती की.

एक ही जिले के किसानों ने 19.2 करोड़ रुपये दिए. राज्य और केंद्र सरकार ने 77-77 करोड़ रुपये देते हुए 173 करोड़ रूपये की रिलायंस बीमा करवा दिया. इसके बाद किसानों की फसल खराब हो गयी. इसके औसत में रिलायंस ने 30 करोड़ रुपये बीमा के फलस्वरूप किसानों को बाँट दिए.

रिलायंस बीमा के तहत कम्पनी ने 143 करोड़ का मुनाफा कमा लिया, जो घोटाले के जिन्न के रूप में बाहर आ गया. ये आंकड़े केवल एक जगह के है अगर इसी तरह पूरे देश का औसत निकाला जाएगा, तो ये राफेल से भी बड़ा घोटाला निकल कर सामने आयेगा.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here