समाजवादी पार्टी व्यापार सभा के प्रदेश महासचिव अभिमन्यु गुप्ता की अध्यक्षता में आज कानपुर के श्याम नगर इलाके में व्यापारी चौपाल का आयोजन किया गया. इस चौपाल का संचालन व्यापार सभा कानपुर अध्यक्ष जितेंद्र जायसवाल ने किया. चौपाल में व्यापारियों हो रही परेशानियों पर चर्चा की गई.

अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से आई मंदी के बाद अब कोरोना महामारी के कारण व्यापारियों की परेशानी, और व्यापार घटने से असुरक्षा की भावना उत्पन्न होने, तथा कानून-व्यवस्था चौपट होने से आम व्यापारी के दहशत में है, ई कामर्स से छोटे व्यापारियों की कमर टूट गई है, व्यापारी विरोधी नीतियों की वजह से व्यापारियों में मानसिक अवसाद की समस्या उत्पन्न हो रही है.

उन्होंने कहा कि व्यापारियों का उत्पीड़न किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और उन्हें उनका खोया सम्मान दिलाया जाएगा. व्यापारियों का यह हाल केंद्र और प्रदेश की सरकारों के द्वारा लिए गये ग़लत निर्णयों के कारण हुआ है.

चौपाल का संचालन कर रहे कानपुर नगर अध्यक्ष समाजवादी व्यापार सभा जीतेंद्र जायसवाल ने कहा कि सरकार द्वारा कोरोना में राहत दिलाने हेतु दिये गये राहत पैकेज में छोटे व्यापारियों को किसी प्रकार के ऋण का कोई लाभ नहीं मिला है.

व्यापारी बैंक के ब्याज और टैक्स के बोझ से परेशान है. विद्युत विभाग कम राशि का बिल देय होने पर भी विद्युत कनेक्शन काटकर व्यापारियों का उत्पीड़न कर रहा है, वहीं पुलिस अनावश्यक रूप से व्यापारियों का चालान काटकर व्यापारियों का शोषण कर रही है.

सोनू वर्मा ने कहा की पहले से ही जीएसटी, नोटबंदी की मार झेल रहा व्यापार मंदी से गुजरता हुआ कोरोना काल में और निराश हो गया है. रिश्वतखोरी और इंस्पेक्टर राज से व्यापारी तनाव में है.

अश्वनी निगम ने कहा की अब व्यापारियों की कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है. सरकारी विभागों में भ्रष्टाचार अपने चरम पर है. छोटे व मंझोले व्यापारियों का जीएसटी फाइल करने के दौरान विभाग में बढ़ते भ्रष्टाचार से शोषण हो रहा है.

रचित पाठक ने कहा कि सरकार की नीतियों ने कारोबार को सड़क पर लाकर खड़ा कर दिया है. आज व्यापारी की स्थिति बद से बदतर हो गई है. व्यापारी अपनी जीविका भी सुचारू रूप से चला नहीं पा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here