बड़ी खबरः राज्यसभा सांसद के बाद सपा के कई एमएलसी भाजपा के संपर्क में, जल्द ही ज्वाइन कर सकते हैं पार्टी

0
image credit-getty

सपा के कई राज्यसभा सांसदो के भाजपा में जाने के बाद अब कई एमएलसी (विधान परिषद सदस्य) भाजपा के संपर्क में हैं. हालांकि अभी बातचीत चल रही है सही दिशा में अगर बात होती है तो ये एमएलसी जल्द ही पाला बदल सकते हैं. भाजपा की इस रणनीति को विधान परिषद में पर्याप्त संख्या बल जुटाने की दिशा में देखा जा रहा है.

अगर वर्तमान की बात की जाए तो सबसे ज्यादा एमएलसी वाला दल इस समय सपा ही है, जिसके पास 55 एमएलसी हैं. भाजपा के पास 21, बसपा के 8 एमएलसी हैं, वहीं कांग्रेस के मात्र 2 सदस्य हैं. लेकिन इनमें से कांग्रेस के दिनेश प्रताप सिंह औपचारिक रुप से ही साथ हैं. उन्होंने हाल ही में भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था. वह कभी भी पाला बदल सकते हैं.

image credit-getty

कांग्रेस ने भी इस संदर्भ में सभापति को उनकी सदस्यता रद्द करने की याचिका दी है. गौरतलब है कि विधान परिषद में सपा के बहुमत के चलते कई महत्वपूर्ण बिल अटक जाते हैं. जिसके लिए वह ऱणनीति बनाने में जुटी हुई हैं. यहां तक जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी बातों को रखने पहुंचते हैं तो सपा के सदस्यों के व्यवधान के चलते वह अबनी बात को नहीं रख पाते हैं.

इस स्थिति को खत्म करने के लिए सपा का वर्चस्व तोड़ने की योजना भाजपा के रणनीतिकारों ने बना ली है. इसकी के तहत सपा के 7-8 एमएलसी इस्तीफा देकर भाजपा में जा सकते हैं. सपा के एमएलसी की संख्या 50 के नीचे पहुंचते ही भाजपा की राहें आसान हो जाएंगी.

image credit-getty

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक स्नातक सीट से भाजपा से टिकट मांग रहे एक सपा के एमएलसी को 3 या 4 दिन में ही भाजपा में शामिल होना तय है. इनका कार्यकाल अगले साल अप्रैल तक है.

सपा के एक एमएलसी की होर्डिंग में सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए नीरज शेखर की फोटो लगी है जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि उनकी निष्ठा में बदलाव हो गया है. एक एमएलसी ऐसे भी हैं जो सपा अध्यक्ष के काफी विश्वासपात्र माने जाते हैं. पर कारोबारी मजबूरियां उन्हें दूसरी राह पकड़ने के लिए मजबूर कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here