पूर्वांचल के सक्रिय राजनीति दल युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह को फोन पर अंजान नंबर से जान से मारने की धमकी दी गई है. पार्टी प्रमुख को धमकी मिलने की खबर से युवा चेतना के कार्यकर्ता और पदाधिकारी रोहित सिंह के आवास पहुंचे और बलिया के मालदेपुर मोड़ पर धरने पर बैठ गए.

रोहित सिंह ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मेरे पास 919026227700 नंबर से फोन आया और दुर्जनपुर जाने को लेकर सवाल पूछे गए. उन्होंने कहा कि जयप्रकाश पाल के लिए न्याय की लड़ाई को लड़ने से पीछे हटने को कहा गया.

युवा चेतना के संरक्षक स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा कि रोहित सिंह जैसे राजनेता को धमकी देकर इंसाफ की आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है. रोहित लगातार सरकार की नीतियों और प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों पर सवाल उठा रहे हैं इसीलिए सत्ता से जुड़े लोग उन्हें इस तरह की धमकियां दिलवा रहे हैं. उन्होंने कहा कि हम अन्याय के खिलाफ मजबूती से खड़े रहेंगे.

युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित सिंह ने कहा कि हम लोकतंत्र और संविधान बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं. इस तरह की धमकियों से हम डरने वाले नहीं हैं. उन्होंने कहा कि योगी सरकार दुर्जनपुर के दुर्जन को बचाना चाह रही है. सरकार से जुड़े लोग अपराधी के साथ खड़े नजर आ रहे हैं.

रोहित सिंह ने कहा कि हम जयप्रकाश पाल को इंसाफ दिलाने के लिए बीच सड़क पर बैठे हैं, जिसको मारना हो वो आकर हमें मार दे मगर हम इंसाफ की लड़ाई से पीछे हटने वाले नहीं हैं. युवा चेतना प्रमुख ने कहा कि अगर मेरी साथ कोई भी घटना होती है तो इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिम्मेदार होंगे.

उन्होंने कहा कि हम सभी को इंसाफ दिलाने के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं. हमें किसी की जाति और धर्म से कोई लेना देना नहीं है. धरने में अजय राय मुन्ना, बैजू राय, अजय ओझा, भरत यादव, सैफ नवाज, चमचम तिवारी, सन्नी तिवारी, निखिल यादव, नागा राय, देव पांडेय, त्रिभुवन पांडेय, मो. शमिम आदि उपस्थित रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here