बलिया जिले की मनियर पंचायत में अधिकारी मणिमंजरी राय की संदिग्ध हालत में हुई मौत के मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग को लेकर युवा चेतना पदाधिकारियों ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी को ज्ञापन सौंपा.

युवा चेतना संरक्षक स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा कि मणिमंजरी राय एक सुयोग्य अधिकारी थी, बलिया में अधिकारियों के दुर्व्यवहार और राजनेताओं के कुचक्र के कारण उसकी जान चली गई जिसकी जितनी भी निंदा की जाए वो कम है.

युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने भारत सरकार के गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी को पीसीएस अधिकारी मणिमंजरी राय के संदर्भ में विस्तृत रूप से बताया. उन्होंने गृह राज्य मंत्री से इस मसले पर संज्ञान लेते हुए मणिमंजरी राय की मौत की जाँच किसी केंद्रीय एजेन्सी से जाँच कराने की माँग की.

रोहित सिंह ने कहा कि भूमिहार समाज से ताल्लुक रखने वाली मणिमंजरी राय के साथ यूपी पुलिस अन्याय कर रही है इसलिए भारत सरकार के दरवाज़े पर न्याय की गुहार लगाने पड़ रही है.

उन्होंने कहा कि युवा चेतना मणिमंजरी राय के नाम पर राजनीति करने वाले लोगों से अपील कर रही है की बेटी के साथ न्याय की लड़ाई में हमारा साथ दें. युवा चेतना मुखिया ने कहा कि हम मणिमंजरी की लड़ाई बलिया से दिल्ली तक लड़ेंगे और उन्हें इंसाफ दिलवाकर ही रहेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here