चौकीदार एक ऐसा शब्द हो गया है जो साल 2019 में शायद सबसे ज्यादा बार बोला गया होगा. लोकसभा चुनाव में भी इसी शब्द को बार बार दोहराया जा रहा है. जब तक चुनाव खत्म नहीं हो जाते तब तक ये शब्द हम बार बार सुनते रहेंगे. राहुल गांधी के चौकीदार चोर है के नारे के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने अपने नाम के आगे चौकीदार शब्द जोड़ लिया.

फिर क्या था पूरी बीजेपी और उनके समर्थक भी इस मुहिम में शामिल हो गए और सब अपने नाम के आगे बड़े फख्र से चौकीदार लिख रहे हैं. शुक्रवार को कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कांफ्रेंस कर बीजेपी, प्रधानमंत्री मोदी और कई बड़े नेताओं पर 1800 करोड़ की रिश्वत लेने का गंभीर आरोप लगा दिया.

इस आरोप के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘बीजेपी के सारे चौकीदार चोर हैं’. इस ट्वीट में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्त मंत्री अरुण जेटली और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का नाम भी लिखा.

बता दें कि रणदीप सुरजेवाला ने एक पत्रिका में छपी खबर का हवाला देते हुए कहा कि येदियुरप्पा की डायरी के रूप में खबर सामने है. हमने भी 14 फरवरी, 2017 को येदियुरप्पा और तत्कालीन केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार की बातचीत वाला एक वीडियो जारी किया था जिसमें स्पष्ट था कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को रिश्वत दी गई.

भाजपा ने कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि दिन भर इंतजार के बाद राहुल गांधी प्रेस कांफ्रेंस करने नहीं आए क्योंकि उन्हें पता था कि इस आरोप में दम नहीं हैं. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस के इस आरोप को देखते हुए एक हिंदी कहावत याद आती है जिसमें कहा गया है कि खोदा पहाड़ और निकली चुहिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here