सीबीआई विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद एक बार फिर इस मुद्दे पर राजनीति शुरू हो गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि राफेल विमान मामले की जांच के डर से रात को दो बजे पीएम मोदी ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को हटाया था. इस तरह से रातोंरात एक संवैधानिक पद पर बैठे हुए व्यक्ति को हटाना संविधान और लोकतंत्र का अपमान है. ये देश की जनता का भी अपमान है.

राहुल ने आरोप लगाया कि सीबीआई निदेशक को हटाने के बाद उनके कमरे को सील किया गया और उसमें से जांच के नाम पर दस्तावेजों की हेराफेरी की गई. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला करते हुए कहा कि उन्हें मालूम है कि जिस दिन राफेल मामले को लेकर सीबीआई की कार्रवाई शुरू हो गई उस दिन प्रधानमंत्री खत्म हो जाएंगे.

पीएम ने घबराकर और डरकर ये कार्रवाई की थी. उनको डर है कि मैने भ्रष्टाचार किया है और मैं अब पकड़ा जा सकता हूॅ. राहुल ने एक बार फिर राफेल मुद्दे को जोरशोर से उठाते हुए कहा कि राफेल में भ्रष्टाचार हुआ है, मोदी जी ने जनता का पैसा उसकी जेब से निकाल कर अनिल अंबानी की जेब में डाला है.

अब उनको डर है कि कहीं पकड़े न जाएं इसलिए उन्होंने ये कदम उठाया था. उन्होंने एक अपराध किया और उसको छिपाने के लिए दूसरे अपराध कर रहे हैं लकिन मैं बताता हूॅ कि वो एकदिन पकड़े जाएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here