ब़ड़ी खबरः बीजेपी के सहयोगी रहे ओमप्रकाश राजभर ने किया गठबंधन प्रत्याशियों का समर्थन

0

ओमप्रकाश राजभर के नेतृत्व वाली सुहैलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रत्याशी सातवें चरण में तीन सीटों पर चुनाव नहीं लड़ सकेंगे. इन तीनों ही सीटों पर सुभासपा ने कांग्रेस और गठबंधन के उम्मीदवारों को समर्थन देने का फैसला किया है.

विगत दिनों एनडीए से अलग होकर अकेले चुनाव लड़ने का दम भरने वाले ओमप्रकाश ने पूर्वांचल की 39 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे. उन्होंने भाजपा को बागी तेवर दिखाते हुए पांचवें, छठे और सातवें चरण के चुनाव में बीजेपी से अलग होकर चुनाव लड़ने का फैसला किया था.

ये भी पढ़ेः अगर आप भी अपनी महिला पार्टनर को रियल ऑर्गैज्म फील कराना चाहते हैं तो…

नामांकन खारिज होने के बाद पार्टी ने किया ये फैसलाः

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुभासपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण राजभर ने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मिर्जापुर में कांग्रेस और महाराजगंज व बांसगांव में गठबंधन प्रत्याशियों को समर्थन देने का एलान किया है. बता दें कि इन लोकसभा क्षेत्रों में पार्टी द्वारा उतारे गए प्रत्याशियों का नामांकन खारिज हो गया था, जिसके बाद पार्टी के कार्यकर्ताओं की सलाह-मशविरा लेने के बाद ये फैसला किया गया है. इसके साथ ही कहा कि यहां पर भाजपा को मात देने के लिए हमारे कार्यकर्ता जुटेंगे.

ओमप्रकाश राजभर ने बनारस में चुनाव प्रचार करते हुए कहा था कि भाजपा इस बार महज 15 सीटों के अंदर सिमटने वाली है. जबकि गठबंधन को 55 से 60 सीटें मिलने की संभावना जताई थी.

ये भी पढ़ेः अजबः इस आदमी के हैं दो पेनिस, अब तक 1000 महिलाओं से बना चुका…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here