हाल ही में हुए पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में तेलंगाना की एक रैली में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दलित बाहुल्य रैली में भगवान हनुमान को दलित कहकर संबोधित किया था. जिसके बाद से राजनीति में सियाशी तूफ़ान सा मच गया.

4 दिसंबर में भाजपा सांसद सावित्री बाई फुले ने हनुमान को जैन कहकर पुकारा था. अभी इन क्रियाओं की प्रतिक्रियाएं आनी रुकी नहीं थी कि आज भाजपा एमएलसी बुक्कल नवाब ने कहा कि हमारा मानना है कि हनुमान मुसलमान थे.

कहा कि इसलिए मुसलमानों के जो नाम रखे जाते है, रहमान, रमजान, फरमान, जीशान, कुर्बान जितने भी नाम है वह करीब करीब उनके नाम पर ही रखे जाते है. इसलिए मैं भगवान् हनुमान को मुस्लिम कहना गलत नहीं होगा. अब इस बयान की सोशल मीडिया से लेकर नेताओं के बीच निंदा का विषय बनी हुई है. भाजपा नेताओं द्वारा ही भगवान् की जाति का मुद्दा बनाया गया. इसको लेकर सोशल मीडिया पर भाजपा नेताओं की जमकर निंदा हो रही है इसके साथ ही उनपर सवाल भी उठाये जा रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here