भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट को लेकर लम्बे समय से कयास लग रहे हैं. इन कयासों पर कभी विराम लग जाता तो कुछ ही दिनों पर फिर से कयास लगने शुरू हो जाते. भारतीय टीम के लिए उन्होंने अपना आखिरी मैच पिछले साल इंग्लैंड और वेल्स में खेले गए विश्व कप में सेमीफाइनल मुकाबला खेला था.

इसके बाद से धोनी न सिर्फ भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे हैं बल्कि उन्होंने अधिकारिक तौर पर कोई मैच नहीं खेला. आईपीएल से पहले वह प्रैक्टिस करते ही नजर आए. उससे पहले क्रिकेट मैदान से भी दूर ही दिखे.

वहीं अब जो रिपोर्ट्स सामने आ रही हैं उसे देख कर लगता है कि इंग्लैंड में न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ खेला गया विश्व कप का सेमीफाइनल मुकाबला ही धोनी के करियर का अंतिम मैच साबित हो सकता है.

जानकारी के मुताबिक धोनी ने सन्यास का मन बना लिया है लेकिन अभी तक इसकी अधिकारिक सूचना नहीं दी है. स्पोर्ट्स कीड़ा की खबर में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि अधिकारिक तौर पर उन्होंने अब तक बीसीसीआई से इस बारे में कोई बात नहीं की है, लेकिन अपने करीबी दोस्त से इस बारे में विचार जाहिर कर चुके हैं. जब सही समय आएगा तो वो इस बात का खुलासा कर देंगे.

सूत्र के मुताबिक धोनी आईपीएल में अपना फॉर्म परखना चाहते हैं नहीं कि उन्होंने बहुत पहले ही सन्यास की घोषणा कर दी होती. न्यूज़ीलैण्ड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में धोनी 50 रन बनाकर आउट हुए थे. उनके आउट होने के बाद पूरी टीम ऑल आउट हो गयी थी और भारत का विश्व कप के फाइनल में पहुँचने और जीतने का सपना टूट गया था. धोनी रन आउट होकर पवेलियन लौटे थे.

धोनी की गिनती भारत के सफल कप्तानों में होती है. उनकी कप्तानी में भारत ने टी-20 और विश्व कप जीता. 2013 में टीम ने चैम्पियन ट्रॉफी पर भी कब्ज़ा जमाया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here