कोरोनावायरस के प्रसार पर रोक लगाने के लिए किए गए लॉकडाउन का आज पांचवा दिन है. लॉकडाउन के बाद जो एक बड़ी समस्या सामने आई वह लोगों के पलायन की है. घर जाने के लिए दिहाड़ी मजदूर दिल्ली के आनंद विहार बस अड्डे पर बड़ी संख्या में उमड़ पड़े. सडकों पर इस तरह की भीड़ कई जगह दिखी. इस बीच राजनीति भी शुरू हो चुकी है.

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एक ट्वीट कर बीजेपी सरकार पर नि’शाना साधा है. उन्होंने भाजपा पर कोरोना वायरस महामारी को लेकर ओछि राजनीति करने का आरोप लगाया है.

उन्होंने अपने एक ट्वीट में कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आरोप लगा रही है कि लोग दिल्ली छोड़कर पलायन कर रहे हैं, क्योंकि ‘आप’ सरकार ने उनके बिजली और पानी के कनेक्शन काट दिए हैं. उन्होंने कहा कि यह गंभीरता से एक होकर देश को बचाने का समय है.

उन्होंने लिखा कि मुझे बहुत दुःख है कि कोरोना महामारी के बीच बीजेपी नेता टुच्ची राजनीति पर उतर आए हैं. योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने आरोप लगाया है कि अरविन्द केजरीवाल जी ने बिजली पानी काट दिया है इसलिए लोग दिल्ली से जा रहे हैं. यह गंभीरता से एक होकर देश को बचाने का समय है, घटिया राजनीति का नहीं.

उन्होंने आगे कहा कि आज दिल्ली के बॉर्डर पर जो लोग हैं वो केवल दिल्ली से नहीं हरियाणा, पंजाब, राजस्थान तक आए लोग हैं. जो भी इस वक्त दिल्ली में हैं उसे छत देने और खाना देने की जिम्मेदारी हमारी है ताकि कोरोना के खिलाफ प्रधानमंत्री मोदी जी का लॉकडाउन सफल हो सके. लेकिन इससे मिलकर लड़ना होगा.

एक अन्य ट्वीट में मनीष सिसोदिया ने कहा कि हम सब भारतवासियों को मिलकर कोरोना को रोकना है. प्रधानमंत्री जी ने जिस मकसद से देश भर में लॉकडाउन लगाया है उसे सबको सफल बनाना है. सिर्फ दिल्ली नहीं देश भर के शहरों में कामगारों का विस्थापन रोकना है ताकि लॉकडाउन का मकसद सफल हो सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here