अयोध्या में 500 सालों से चले आ रहे रामजन्म भूमि बाबरी मस्जिद मामले का बेहद ही शांति पूर्वक ढंग से निपटारा होने के बाद हिंदूवादी संगठनों ने काशी और मथुरा विवाद को भी हल करने की मांग उठा दी है. काशी विश्वनाथ मंदिर बनाम ज्ञानव्यापी मस्जिद विवाद को लेकर वाराणसी की अदालत में सुनवाई हुई.

वाराणसी के सिविल जज सीनियर डिवीजन फास्ट ट्रैक कोर्ट में काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानव्यापी मस्जिद को लेकर सुनवाई चल रही है. जिला जज की अदालत ने इस मामले में यूपी सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को नोटिस जारी करने का आदेश देते हुए इस मामले की अगली सुनवाई एक सितंबर तय की है.

बता दें कि साल 1991 में स्वयंभू ज्योतिर्लिंग भगवान विश्वेश्वर की ओर से पंडित सोमनाथ व्यास और डॉक्टर रामरंग शर्मा ने ज्ञानव्यापी में नए मंदिर निर्माण और हिंदुओं को पूजा पाठ का अधिकार देने को लेकर अदालत में याचिका दाखिल की. तब से लेकर ये मामला अब तक चल ही रहा था.

इस मामले में हाईकोर्ट ने स्टे भी जारी किया था. मस्जिद पक्ष का कहना है कि हाईकोर्ट का स्टे अभी भी बरकरार है, इस मामले की सुनवाई सिविल कोर्ट में नहीं हो सकती. इस याचिका को अदालत ने खारिज कर दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here