कानपुर का एक शख्स, जिनका रिवाल्वर से लेकर चश्मा तक सबकुछ सोने का

0

कुछ लोग किसी चीज के शौक़ीन हो जाते हैं तो वह फिर उसे पूरी तरह से अपना लेते हैं. अब तक कई लोग ऐसे सामने आ चुके हैं जो गोल्ड के यानि सोने के शौक़ीन हैं. इस तरह का नाम अगर किसी के जेहन में पहले आता है तो वह है बप्पी लहरी का. लेकिन आज हम आपको कानपुर के बप्पी लहरी के बारे में बताने वाले हैं, जो गूगल गोल्डन बाबा के नाम से जाने जाते हैं. जिनका असली नाम मनोज सेंगर उर्फ़ मनोजानंद है.

वह सोने के आभूषणों के बेहद शौक़ीन हैं. वह हमेशा तकरीबन दो किलो से ज्यादा सोना धारण किए रहते हैं. कानपुर के काकादेव में रहने वाले मनोज सेंगर वैसे तो घर में सामान्य दिखते हैं, मगर जब बाहर निकलते हैं तो वो गोल्डन बाबा बन जाते हैं.

मनोज सेंगर उर्फ़ गोल्डन बाबा ने बताया कि वर्ष 1988 में दूरदर्शन पर महाभारत सीरियल देखकर उन्हें भी सोने और चंडी के आभूषण पहनने का शौक हुआ. उन्होंने कहा कि क्षत्रियों का सोने और चंडी के बने आभूषण पहनना पहला रुआब है. ऐसे में महाभारत देखने के बाद उन्होंने करीब ढाई-ढाई सौ ग्राम के चार सोने की चेन बनवाकर उसे धारण किया.

मनोज सेंगर दस साल से लगातार इसी तरह दो किलो सोना पहने रहते हैं. साथ ही वो खुद की सुरक्षा के लिए लाइसेंसी रिवाल्वर रखते हैं. दो प्राइवेट गनर भी हमेशा उनके साथ रहते हैं. उनके पास सोने के जूते भी हैं और सोने के लड्डू-गोपाल भी, जिनको वो हमेशा अपने साथ रखते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here