यूरोपीय संसद में सऊदी अरब की मुश्किलें बढ़ाने वाला ये प्रस्ताव हुआ पारित, उठी यह भी मांग…

0


पत्रकार जमाल ख़ाशुकजी की हत्या के आरोप में सऊदी अरब की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. सऊदी के सबसे खास मित्र देश अमेरिका ने भी इस हत्या की कड़ी निंदा करते हुए सऊदी सरकार को इसके गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी थी.

अब यूरोपीय संसद में एक प्रस्ताव पारित हुआ है जिसमें सऊदी प्रिंस को इस हत्या का ज़िम्मेदार बताया गया है. प्रस्ताव में कहा गया है कि बिना सऊदी प्रिंस की जानकारी के वहां का खुफिया विभाग ऐसी घटना को अंजाम दे ही नहीं सकता. यही नहीं प्रस्ताव में इस हत्या में शामिल लोगों को यूरोप में प्रवेश पर प्रतिबंध और उनकी संपत्ति ज़ब्त करने की बात कही गई.

यूरोपीय संसद में यह प्रस्ताव एक के मुकाबले 325 वोटों से पास हो गया. सऊदी अधिकारियों से यह मांग की गई है कि वह इस बात की सही जानकारी दें कि जमाल ख़ाशुकजी का शव कहॉ दफनाया गया है. गौरतलब बात यह है कि सऊदी सरकार नें काफी टाला-मटोली के बाद 2 अक्टूबर से लापता पत्रकार की हत्या की बात आधिकारिक तौर पर कबूल की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here