एक तरफ मोदी तो दूसरी तरफ हार्दिक ने किसानों के लिए भरी हुंकार, देखें क्या कहा हार्दिक पटेल ने

0

आज गुजरात में एक तरफ नरेंद्र मोदी सरदार पटेल की 182 मीटर ऊँची प्रतिमा का लोकार्पण किया है, वहीँ दूसरी तरफ हार्डी पटेल ने भी रियासतों का एकीकरण करने वाले लौहपुरुष पटेल के जन्मदिन पर किसानों को एकजुट कर उनके हक़ की लड़ाई लड़ेंगे.

550 से अधिक रियासतों का एकीकरण करने वाले पटेल जी ने देश को एकता के सूत्र में पिरोने में कोई कसार नहीं छोड़ी थी, इसीलिए आज भी उनको याद किया जाता है. मोदी सरकार जब सत्ता में आई तो उसने सरदार पटेल की एतिहासिक मूर्ति बनाने का फैसला लिया.

42 महीने के अन्दर इस मूर्ति को बनकर तैयार हो जाना था, लेकिन डिज़ाइन में परिवर्तन के कारण 4 महीने का अधिक समय लग गया. आज पटेल जी की जयंती पर प्रधानमंत्री ने मूर्ति का लोकार्पण करते हुए किसानॉन के सपने का साकार होना बताया.

आज का दिन इतिहास में दर्ज हो गया, क्यूंकि सबसे बड़ी मूर्ति बनाने का गौरव भारत के नाम हो गया है, इसके बाद चीन की स्प्रिंग टेम्पल बुद्धा है.

आज के ही दिन पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने जूनागढ़ में किसानों के हक़ में सत्याग्रह करने जा रहे है, इसमें भाजपा के नेता जसवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा मौजूद रहेंगे, इसकी जानकारी उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से दी. किसानो के कर्जा माफ़, फसल का सही दाम सहित कई मुद्दों पर बातचीत करेंगे.

बता दे कि गुजरात में भाजपा की सरकार है, इन मुद्दों के साथ सरकार को घेरने की कोशिश करेंगे. भाजपा के नताओ के पहुँचने से सभा में जान आ सकती है, ये नेता वैसे भी भाजपा के खिलाफ बोलते हुए नजर आते रहते है. नोटबंदी जैसे ज्वलंत मुद्दों पर इन नेताओं ने सरकार को घेरा था.

हम आपको बता दे कि सरदार पटेल की इस मूर्ति में सरदार पटेल के जीवन पर संग्रहालय, भारत भवन प्रदर्शनी सभा गृह, थ्रीडी चित्रों का मानचित्रण, 250 शिविरों वाला टेंट सिटी, जनजातीय संग्रहालय, फूलो की घाटी, आदि आकर्षण होंगे. सरदार पटेल को भारत रत्न की उपाधि से भी नवाजा गया था.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here