इंसाफः 22 साल पुराने मामले में इस भाजपा विधायक की सदस्यता हुई रद्द, अब 12 सीटों पर होंगे उपचुनाव

0
image credit-getty

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर से भारतीय जनता पार्टी के विधायक अशोक कुमार सिंह को विधायक पद से हाथ धोना पड़ा है, इसके पीछे 22 साल पहले के एक मामले में हाईकोर्ट ने सजा सुनाई हैं जिसके बाद विधायक अशोक कुमार को बड़ा झटका लगा है. इस फैसले के बाद विधायक की सदस्यता खत्म हो गई है. दरअसल 19 अप्रैल को कोर्ट ने 22 साल पुराने मामले में अशोक कुमार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है. इस सजा के बाद से ही उनकी विधायकी चली गई है.

अब 12 सीटों पर होंगे उपचुनावः

बता दें कि ये मामला 1997 का है, जिसमें कोर्ट ने शुक्रवार को अशोक कुमार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. इस सजा के बाद से ही उनकी विधानसभा की सदस्यता को रद्द कर दिया गया है. हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद चुनाव आयोग ने अपनी सभी प्राथमिकताओं को पूरा कर लिया है. विधानसभा सचिवालय को इस मामले में आगे की कार्रवाई करने के लिए कहा गया, इसके तुरंत बाद ही अशोक कुमार की सदस्य़ता को रद्द कर दिया गया. अब हमीरपुर की सीट भी छिन गई है जिससे अब 12 सीटों पर उपचुनाव होंगे.

बता दें कि हाल ही में लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद 11 विधायक सांसद बन गए थे, जिसके कारण उनकी रिक्त सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here