उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह आज से करेंगे नई पारी की शुरूआत, फिर बीजेपी में हुए शामिल

0

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह ने सोमवार को एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया. उन्होंने यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में प्रदेश बीजेपी कार्यालय पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली. राजस्थान के राज्यपाल पद से सेवानिवृत्त होने के बाद ये कयास लगाए जा रहे थे कि कल्याण सिंह भाजपा में शामिल हो सकते हैं.

कल्याण सिंह का जन्म 5 जनवरी 1932 को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में हुआ था. वो संघ की गोद में पले बढ़े और दो बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. वो भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख नेताओं में से एक थे. उनकी छवि कट्टर हिं’दूवादी नेता की तौर पर बनी हुई थी. कल्याण सिंह 90 के दशक के कद्दावर नेताओं में से एक थे.

बाब’री मस्जि’द विध्वं’स के बाद उन्हें अपनी सत्ता की कुर्बानी देनी पड़ी थी. यहीं नहीं वो इस मामले में सजा पाने वाले एकमात्र नेता थे. राज्यपाल पद से हटने के बाद एक बार फिर उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं. उन्हें बाबरी केस में फिर मुकदमें का सामना करना पड़ सकता है.

मुलायम सिंह से भी रहा है करीबी नाता

कल्याण सिंह सपा संरक्षक मुलायम सिंह के करीबी रह चुके हैं. एक समय वो समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे. मुलायम सिंह ने कहा था कि उनके कल्याण सिंह से आज भी बेहतर रिश्ते हैं मगर उन्हें पार्टी में शामिल करना उनकी एक बड़ी गलती थी. मुलायम सिंह ने पार्टी में बढ़ते विरोध के बाद कल्याण सिंह को बाहर का रास्ता दिखा दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here