अखिलेश का विरोध करना कांग्रेस नेताओं को पड़ा महंगा, कांग्रेस हाईकमान ने लिया एक्शन, जारी हुआ नोटिस

0

सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव का रामपुर दौरे के लिए विरोध करना कांग्रेस के नेताओं को भारी पड़ा है. कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष मुतीउर्रहमान खां बबलू और अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष फैसल लाला ने अखिलेश को रामपुर आने से रोकने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को पत्र लिखा था.

कांग्रेस हाईकमान ने इन दोनों नेताओं को नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब देने के लिए कहा है. इन दोनों नेताओं की कार्यक्रम विरोधी बयानबाजी को हाईकमान ने गंभीरता से लिया है.

मुतीउर्रहमान खां को नोटिस प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अनुशासन समिति के सदस्य पूर्व विधायक विनोद चौधरी ने जारी किया है. जिसमें कहा गया है कि पार्टी के अनुमति के बिना ही अखिलेश यादव के खिलाफ बयान दिया है. आपका यह कृत्य घोर अनुशासनहीनता की परिधि में आता है. पांच दिन के अंदर अपना स्पष्टीकरण दें. अन्यथा कठोर कार्रवाई की जाएगी.

कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष अली यूसुफ अली ने फैसल लाला को नोटिस जारी किया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के रीति-रिवाजों के विपरीत काम कर रहे हैं, क्यों न आपके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए. उनसे तीन दिन में स्पष्टीकरण माँगा गया है. साथ ही कहा गया है कि पार्टी के अनुमति के बिना लेटरपैड का इस्तेमाल न करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here