बड़ी खबरः पूर्व विधायक और बसपा नेता ने पार्टी छोड़ी, मायावती को बताया ‘दलित विरोधी’

0

उपचुनावों के बाद से बहुजन समाज पार्टी में फेरबदल कर मायावती ने कई नेताओं को बाहर का रास्ता दिखाया था. लेकिन यही पार्टी के लिए मुसीबत का सबब बनात जा रहा है. पार्टी के कद्दावर नेता माने जाने वाले मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा से बसपा विधायक रहे विजय यादव ने भी बसपा से किनारा कर लिया है. उन्होंने बसपा को दलित विरोधी पार्टी तक बता दिया.

विजय यादव ने पार्टी छोड़ने का एलान योगेश वर्मा द्वारा बुलाए गई बैठक में किया. मेरठ की मेयर सुनीता वर्मा और उनके विधायक पति योगेश वर्मा को मायावती ने हाल ही पार्टी से निष्कासित कर दिया था, आरोप था कि ये लोग पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त हैं. इसके बाद से ही पार्टी को छोड़ने वालों की संख्या में एकाएक बढोत्तरी देखने को मिली है.

बड़ी संख्या में वेस्ट यूपी में बसपा के नेता शीर्ष नेतृत्व से नाराज चल रहे हैं. विजय यादव जो कि बसपा से 2007 में भाजपा के धुरंधर नेता सर्वेश सिंह को हराकर चुनाव जीते थे. इनकी गिनती जिले के कद्दावर नेताओं में की जाती थी. बकौल विजय यादव कई और जिलों के नेता पार्टी छोड़ने वाले हैं, जिनमें संभल, मुरादाबाद, समेत कई जिलें शामिल हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here