अमेरिका में यहूदी प्रार्थना स्थल पर हुआ बड़ा हमला, 11 की मौत. हमलावर ने बताई ये वजह…

0


अमेरिका के पिट्सबर्ग में यहूदियों के प्रार्थना स्थल में घुसकर एक व्यक्ति नें अंधाधुन गोलीबारी की. अचानक हुई इस गोलीबारी में 11 लोगों की मौत हो गई. पुलिस की जवाबी कार्रवाई में घायल हमलावर ने खुद को पुलिस के हवाले कर दिया. इस दौरान तीन पुलिसकर्मियों सहित अन्य लोग भी घायल हो गए.

हमलावर की पहचान रॉबर्ट बोअर्स के रूप में की गई है जिसकी उम्र लगभग 46 वर्ष बताई जा रही है. अमेरिकी इतिहास में यहूदियों पर ये अब तक का सबसे बड़ा हमला है. जॉच में यह बात सामने आ रही है कि हमलावर के दिल में यहूदियों के प्रति बेहद ही नफरत भरी हुई थी. हमले से पूर्व उसने चिल्लाकर कहा कि सभी यहूदियों को मर जाना चाहिए और उसके बाद गोली चला दी.

अमेरिकी जॉच एजेंसी एफबीआई भी इस हमले को यहूदियों से घृणा के तहत मानकर अपनी जॉच को आगे बढ़ा रही है. यहूदियों पर इस हमले के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आदेश जारी किया कि मृतकों के प्रति शोक सम्मान की वजह से 31 अक्टूबर तक व्हाइट हाउस समेंत सैन्य प्रतिष्ठानों के झंडे आधे झुके रहेंगे.

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी अपने देशवासियों से यहूदियों के प्रति नफरत फैलाने वाली विचारधारा से लड़ने की बात कही.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here