राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इसे बंद कराने की गुहार लगाईं है. विधानसभा का 14 अगस्त से सत्र शुरू हो रहा है. उसे पहले मुख्यमंत्री गहलोत ने अपने समर्थक विधायकों को जैसलमेर शिफ्ट करा दिया है.

सीएम अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा है कि उन्हें राजस्थान में विधायकों की खरीद-फरोख्त बंद करवानी चाहिए. इससे पहले वह प्रधानमंत्री को पत्र भी लिख चुके हैं.

मीडिया से बातचीत के दौरान अशोक गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को राजस्थान में जो तमाशा चल रहा है उसे बंद कराना चाहिए. राज्य में खरीद-फरोख्त के रेट बढ़ गए हैं.

आगे उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के कहने पर लोगों ने ताली थाली बजाई और मोमबत्ती जलाई. देश की जनता ने उन्हें दो बार मौका दिया है. ऐसे में चाहिए कि जो कुछ राजस्थान में तमाशा चल रहा है उसे पीएम मोदी बंद करवाएं.

इससे पहले फोन टैपिंग का मामला सामने आने पर गहलोत ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कहा था कि राज्य में उनकी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने कहा था कि राज्यपाल कलराज मिश्र लगातार अनुरोध के बाद भी विधानसभा सत्र शुरू करने की इजाजत नहीं दे रहे हैं. गौरतलब है कि राजस्थान सरकार के चौथी बार प्रस्ताव पर राज्यपाल ने सत्र बुलाने की अनुमति दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here