उत्तर प्रदेश के सक्रिय राजनीतिक दल अंजान आदमी पार्टी का आज समाजवादी पार्टी में विलय हो गया. इस मौके पर अखिलेश यादव ने पार्टी पदाधिकारियों का लाल टोपी पहनाकर स्वागत किया और उन्हें गुलदस्ता भेंट किया. सभी ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

सपा में विलय होने वाली अंजान आदमी पार्टी के अध्यक्ष आशुतोष मिश्रा ने कहा कि भाजपा के कारण लोकतंत्र के सामने जो संकट आया है उसका सामना करने एवं समाजवादी पार्टी को ताकत देने के लिए विलय का निर्णय लिया गया है. अंजान आदमी पार्टी के नेताओं का मानना है कि समाजवादी सरकार द्वारा जनहित के विकास कार्यों एवं समाजवादी पार्टी की नीतियों से प्रभावित होकर यहां आये है.

आशुतोष मिश्रा ने कहा कि भाजपा राज में पीड़ित की कहीं सुनवाई नहीं है. उनका मानना है कि ऐसी सरकार को सत्ता से बाहर करने की ताकत समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव के नेतृत्व में ही है.

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा पूंजीवाद की पोषक पार्टी है जिसमें गरीबों की कोई सुनने वाला नहीं है. भाजपा नौजवानों के भविश्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. बेरोजगारी के कारण अपराधों में लगातार वृद्धि होती जा रही है. भाजपा सरकार किसी भी समस्या का समाधान नहीं करना चाहती है. भाजपा के कारण ही अराजकता पैदा हो गयी है. कानून का किसी को भय नहीं है. जब स्वयं भाजपाई कानून के साथ खिलवाड़ करते है तब कानून का राज कैसे कायम हो सकता है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here