अमेरिकी राष्ट्रपति ने मोदी के 26 जनवरी के आमंत्रण को अस्वीकारा, बताई ये वजह

0

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस बार 26 जनवरी को अमेरिकी मेहमान को निमंत्रण दिया था जिसे डोनाल्ड ट्रम्प ने अस्वीकार कर दिया है. इसकी वजह ट्रंप का स्टेट ऑफ यूनियन को संबोधन माना जा रहा है, जो कि 22 जनवरी से फरवरी के पहले सप्ताह के बीच प्रस्तावित है. इसको लेकर बयान जारी करते हुए कहा गया है कि 26 जनवरी को अमेरिकी मेहमान शामिल नहीं हो सकते है.

ये बयान उस समय आया है जब भारत के रूश के साथ रिश्ते मजबूत हुए है. रूश से हथियारों की खरीद के बाद अमेरिका का भारत के खिलाफ नकरात्मक रवैया रहा है. रूस से डील के पहले तक या कयास लगाए जा रहे थे, कि इस आमंत्रण को डोनाल्ड ट्रंप स्वीकार कर 26 जनवरी को भारत में शिरकत करेंगे. इस बयान के बाद सबकुछ साफ़ हो गया है.

कुछ समय पहले प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने कहा था कि अभी निश्चित नहीं है कि ट्रंप भारत जायेंगे या नहीं लेकिन समय निकाल कर जा सकते है. लेकिन रूस के साथ भारत की नजदीकी के चलते अब ये तो निश्चित हो गया है कि भारत और अमेरिका के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है.

2015 में उस समय के राष्ट्रपति बराक ओबामा अपने ब्यस्त समय से समय निकालकर भारत आये थे.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here