2022 विधानसभा चुनाव को लेकर अखिलेश यादव ने कर दिया ये बड़ा एलान

0

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की नजरें 2022 विधानसभा पर टिकी हुई हैं. वो उपचुनाव में बेहतर प्रदर्शन करके पार्टी में नई जान फूंकने की कोशिश में हैं. अखिलेश यादव ने गठबंधन से तौबा करके अब अकेले ही चुनाव लड़’ने का मन बना लिया है.

हालांकि वो छोटे दलों को साथ उन्हें कोई गुरेज नहीं है. सोमवार को पार्टी कार्यालय पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में अखिलेश यादव ने कहा कि हमारी पार्टी आगामी उपचुनाव और 2022 विधानसभा चुनाव अकेले ही लड़े’गी.

एक सवाल के जवाब में अखिलेश ने कहा कि बड़ी पार्टियों से गठबंधन का अंजाम वो देख चुके हैं इसलिए 2022 में हम अकेले ही चुनाव मैदान में उतरेंगे.

गठबंधन के चक्कर में दो बार सपा को हो चुका है नुकसान

समाजवादी पार्टी ने 2017 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन किया था. गठबंधन का फार्मूला सफल नहीं हुआ और बीजेपी की पूर्ण बहुमत से सरकार बन गई. चुनाव के बाद गठबंधन टूट गया.

इसके बाद 2019 लोकसभा चुनाव में अखिलेश ने बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन कर चुनाव लड़ा इस बार भी नतीजा ठीक नहीं रहा और 80 सीटों वाले प्रदेश में गठबंधन को कुल 15 सीटें हासिल हुई. इनमें से 10 सीटें मायावती और 5 सीटें अखिलेश यादव के पाले में गई थी.

चुनाव नतीजे आने के बाद मायावती ने अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए गठबंधन तोड़ने का एलान कर दिया. लगातार दो बार गठबंधन करके अखिलेश ने अब अकेले की चुनाव मैदान में जाने का मन बना लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here