सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सीएम योगी आदित्यनाथ के लाल टोपी वाले बयान पर मुरादाबाद में जवाब दिया और कहा कि समाजवादियों को कहा गया कि ये लाल टोपी वाले गुंडे है. कहा कि मैं ये कहना चाहता हूं कि लाल टोपी वाले ही हैं जो लोकतंत्र बचाने वाले हैं. उन्होने तंज कसते हुए कहा कि समाजवादियों ने कभी नहीं कहा कि काली टोपी वाले काले दिल वाले हैं. पर ना जाने समाजवादियों पर क्यों इस प्रकार के तंज कसे जा रहे है.

अखिलेश यहां पर मंडलीय कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर के समापन अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे है इस दौरान ही उन्होंने इन बातों का कहा. रामपुर से लखनऊ तक की साईकिल यात्रा के तहत अखिलेश ने 45 मिनट में 11 किलोमीटर साईकिल चलाई. वहीं मुरादाबाद के पांच सितारा होटल में गुरुवार को प्रेस कांफ्रेस के दौरान धक्का मुक्की पर अखिलेश यादव ने कहा कि सबकी सीमाएं है. सारा सच सबको पता है.

हमला हमारे सुरक्षाकर्मियों पर हुआ. और तैयारी हम पर हमला करने की थी. हम पत्रकारों से पहली बार तो प्रेस कांफ्रेस कर नहीं रहे थे. क्या बात थी आखिर किसका दबाव था. यह साजिश इसलिए रची गई क्योंकि मुरादाबाद सपा का गढ़ है. वहां से खराब मैसेज जनता के बीच में जाए. रामपुर में साइकिल यात्रा से पहले माहौल खराब हो जाए. प्रशासन जांच करे कि होटल की लाइट और लिफ्ट क्यों बंद की गई थी आखिर किसके कहने पर ये साजिश रची गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here